शनिवार, 17 जुलाई 2010

नोजवानों को आगे नही पीछे धकेल रही है बीजेपी

भाजपा की युवा विंग भाजयुमो को एमपी में आखिर युवा अध्यक्ष क्यों नहीं मिला? वह भी तब जबकि न सिर्फ पूरी पार्टी बल्कि संघ परिवार में युवा नेतृत्व उभारने का भूत सवार है। भाजपा में संघ परिवार के प्रतिनिधि संगठन महामंत्री रामलाल के निर्देशों का उल्लंघन कर 37 साल के विधायक जीतू जिराती को मोर्चे का अध्यक्ष क्यों बनाना पड़ा? इस के पीछे गणित चाहे जो हों, लेकिन संघ कि गाइड लाइन का उल्लंघन हुआ और मप्र भाजपा में संघ के प्रतिनिधि प्रदेश संगठन महामंत्री माखन सिंह और उनके दोनों सहयोगी मौन रहे? वास्तव में पिछले एक दशक से भाजपा जिस रास्ते पर चल रही है, यह उसी का नतीजा है। एक समय था जब पार्टी में संघ की परंपरा से तपे हुए नेता आते थे, उन्हें सत्ता और संगठन में तरजीह मिलती थी। स्वयं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और उनकी टीम के ज्यादातर सदस्य विद्यार्थी परिषद से युवा मोर्चा में आए और राजनीति में इस मुकाम पर पहुंचे। कालेज और यूनिवर्सिटी में चुनाव लड़ कर यह लोग पहले छात्र नेता, फिर युवा नेता और अब पूरे प्रदेश के नेता बने। अब हालत यह है कालेज और यूनिवर्सिटी में डायरेक्ट इलेक्शन नहीं होते, ताकि युवा नेतृत्व न उभर जाए। बीते एक दशक में भाजपा से जो लोग जुड़े उनमें संघ और संघ परिवार के कार्यकर्ताओं की संख्या बहुत कम है। जो आए उन्हें भी पार्टी में नया माना गया। संघ या परिवार संगठन में किये गए कम को पार्टी ने तवज्जो नहीं दी गई। अब तो स्थिति यह है कि भाजपा नेता संघ का नाम उसी तरह से लेते नजर आते हैं जैसे कांग्रेसी गांधी जी का । यानी वे उनके सिद्धांतों का पालन तो नहीं करते लेकिन नाम का लाभ लेना चाहते हैं। इतना ही नहीं एक बड़ा वर्ग ऐसा खड़ा हो गया है जो संघ और संघ परिवार से सिर्फ इसलिए जुड़ता है कि वह संघ का लेबल लगा राजनीति में लाभ उठा सके । भाजपा का संघ से रिश्ता कितना रह गया है अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि भाजपा कार्यकर्त्ता , नेता और यहां तक कि संघ के प्रतिनिधि प्रदेश संगठन महामंत्री शाखाओं में नजर नहीं आते।... माफ कीजिये अब तो शाखाएं भी नजर नहीं आती। अब ऐसे में यदि भाजपा 37 साल उम्र के ऐसे विधायक को युवा इकाई की कमान सौंपती है जिसने कालेज का मुंह भी नहीं देखा और जिस पर कई अपराध दर्ज हैं तो कैसा आश्चर्य और किस बात का हल्ला?
मनोज जोशी भोपाल मध्यप्रदेश

3 टिप्‍पणियां:

Jandunia ने कहा…

शानदार पोस्ट

राज भाटिय़ा ने कहा…

सोचनिया बात कही आप ने

Neeraj ने कहा…

भाजपा के पास युवा है कहॉ, किसी भ्रष्‍ट को बनाने की बात होती तो, जरूर चुनना मुश्किल हो जाता है।